ट्रेंडिंग

pashu shed yojana : अब इन 4 राज्यों में पशुओं का घर बनाने के लिए 1 लाख 80 हजार रुपए देगी सरकार, ऐसे करें आवेदन

pashu shed yojana :- देश में कई ऐसे पशुपालक है जो आर्थिक तंगी के कारण अपने पशुओं का रखरखाव सही ढंग से नहीं कर पाते। जिसके कारण उन्हें अपने पशुओं से अधिक मुनाफा नहीं हो पाता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा मनरेगा पशु शेड योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से पशुपालक अपने पशुओं के लिए आर्थिक सहायता प्राप्त कर सकते है। MGNREGA Pashu Shed Scheme का लाभ देश के बिहार, पंजाब, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश राज्य में रहने वाले पशुपालकों को मिलेगा। इस योजना के माध्यम से किसानों द्वारा पशुपालन की तकनीक में सुधार लाया जाएगा। जिससे सरकार द्वारा पशु के बेहतर रखरखाव, गौशाला निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। सभी पशुपालक इस योजना के तहत आवेदन कर अपनी निजी भूमि पर पशु शेड लगाने के लिए वित्तीय लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

पशु शेड योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए

यहां क्लिक करें

MGNREGA Pashu Shed Scheme का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा मनरेगा पशु शेड योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए और अपनी निजी भूमि पर शेड निर्माण करने के लिए पशुपालक को वित्तीय सहायता प्रदान करना है। ताकि आर्थिक सहायता प्राप्त कर पशुओं की देखभाल बेहतर तरीके से की जा सके और पशुपालकों की आय में वृद्धि हो सके।फिलहाल अभी केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को सिर्फ उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, पंजाब राज्य में शुरू किया गया है। सफल क्रियान्वयन के बाद इस योजना को देश के सभी राज्यों में लागू कर दिया जाएगा। ताकि किसानों को वित्तीय सहायता सीधे तौर पर ना देकर मनरेगा की निगरानी में शेड का निर्माण कराया जा सके। इस योजना का लाभ कम से कम 2 पशु पालन करने वाले पशुपालक को मिल सकेगा।

MGNREGA Pashu Shed Yojana के अंतर्गत पशु पालन में शामिल पशु

मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत पशुपालन के लिए शामिल पशुओं के नाम जैसे गाय, भैंस, बकरी और मुर्गी आदि पशु हो सकते है। अगर आप भी इन का पालन करते हैं तो आप मनरेगा पशु शेड योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। और इनकी सुचारू रूप से देखभाल करने के लिए इस योजना के अंतर्गत शेड का निर्माण करवा सकते हैं। pashu shed yojana

डेयरी एवं पशुपालन योजना धंधों के लिए 90 प्रतिशत सबसिडी आवेदन शुरु,

यहा करें आवेदन

पशु शेड निर्माण संबंधित जरूरी बातें

पशुपालन शेड के निर्माण हेतु लाभार्थी को कुछ सावधानी बरतनी होगी। जैसे

  • मनरेगा के तहत पशुपालन शेड का निर्माण ऐसी जगहों पर करना होगा। जहां भूमि समतल और ऊंचे स्थान पर हो। ताकि बारिश के कारण पशुओं को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो और पशुओं के मल मूत्र को आसानी से बहाया जा सके।
  • पशु शाला में बिजली पानी की व्यवस्था होनी चाहिए। ताकि पशुओं को मच्छरों तथा अन्य जानवरों से सुरक्षित रखा जा सके।
  • पशु शेड का निर्माण ऐसे स्थान पर किया जाना चाहिए जहां आसानी से परसों तक हो सके और आवश्यकता ना होने पर उस स्थान को बंद किया जा सके।
  • पशु शेड का निर्माण शुद्ध वातावरण और पशुओं को खोल कर चराया जा सके एवं तालाबों में नहलाया जा सके ऐसी जगह पर कराना होगा।
  • पशुओं के खाने के लिए चारा, पीने के लिए पानी आदि की व्यवस्था सुचारू रूप से होनी चाहिए।

5 लाख से ज्यादे किसानों को कर्ज हुआ माफ,

यहां चेक करें अपना नाम।

MGNREGA Pashu Shed Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • मनरेगा पशु शेड योजना को केंद्र सरकार द्वारा अभी उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश और पंजाब में रहने वाले पशुपालक के लिए शुरू किया गया है।
  • इस योजना का सफल कार्यान्वयन होने के बाद जल्द ही अन्य राज्यों में लागू कर दिया जाएगा।
  • MNREGA Pashu Shed Yojana के अंतर्गत गाय, भैंस, बकरी, और मुर्गी पशुपालक योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • पशुओं के रहने के लिए पशुपालकों को उनकी निजी जमीन पर फर्श, शेड, नाद, यूरिनल टैंक आदि के निर्माण के लिए 75,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यदि पशुपालन के पास 4 पशु है तो उन्हें 1 लाख 16 हजार रुपए तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक पशुपालक के पास 4 से अधिक पशु है तो उन्हें पशु शेड योजना के अंतर्गत 1 लाख 60 हजार रुपए सब की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • मनरेगा पशु शेड योजना के माध्यम से सहायता राशि प्राप्त कर पशुपालक अपने पशुओं का अच्छी तरह से ध्यान रख सकेंगे। जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी।
  • MGNREGA Pashu Shed Yojana के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब, विधवा महिलाएं, श्रमिक, बेरोजगार युवक आदि इस योजना का लाभ प्राप्त कर पशुपालन व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास कम से कम 3 पशु होना आवश्यक है।

अब 13500 नहीं, 27000 प्रति हेक्टेयर मुआवजा मिलेगा,

खाते में जमा होना शुरू

मनरेगा पशु शेड योजना के लिए पात्रता

  • MGNREGA Pashu Shed Yojana के अंतर्गत बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश एवं पंजाब राज्य के स्थाई पशुपालक आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • छोटे गांव शहरों में रहने वाले पशुपालक मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना के तहत मनरेगा जॉब कार्ड सूची में सम्मिलित जॉब कार्ड धारक भी आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक कर्ता के पास पशुओं की संख्या न्यूनतम 3 या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • MANREGA Pashu Shed Yojana के लिए पशुपालन का व्यवसाय करने वाले किसान भी पात्र होंगे।
  • शहर में नौकरी छोड़कर गांव में गांव में आ रहे और नौकरी की तलाश कर रहे हैं युवा भी इस योजना के लिए पात्र होंगे।

MGNREGA Pashu Shed Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मनरेगा जॉब कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

SBI बैंक से मिलेगा 30 लाख तक होम लोन

यहां से करें आवेदन

मनरेगा पशु शेड योजना 2023 के तहत आवेदन कैसे करें?

pashu shed yojana केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में MGNREGA Pashu Shed Yojana को शुरू किया गया है। जिसके कारण ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया अभी शुरू नहीं की गई है। जो भी इच्छुक पशुपालक इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं वह अपने नजदीकी बैंक से फॉर्म प्राप्त कर ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

  • मनरेगा पशु शेड योजना के तहत आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी बैंक जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको MANREGA Pashu Shed Yojana का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको उसमें पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • अब आप को आवेदन फॉर्म उसी ब्रांच में जमा कर देना है जहां से आपने प्राप्त किया था।
  • इसके बाद संबंधित अधिकारी द्वारा आपके आवेदन पत्र और दस्तावेजों की जांच की जाएगी।
  • आवेदन सत्यापित होने के बाद आपको मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान कर दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button