डेयरी खोलने पर मिलेगी 31,25,000 रुपए की सब्सिडी, ऐसे उठाएं लाभ | dairy farming apply

dairy farming apply ग्रामीण क्षेत्रों में पशुपालन, खेती के बाद दूसरा बड़ा आय का स्त्रोत है। सरकार भी किसानों को खेती के साथ पशुपालन करने के लिए प्रोत्साहित रही है ताकि उनकी आय में बढ़ोतरी हो सके। गांव में सरकारी योजनाओं का लाभ (Benefits of government schemes) लेकर पशुपालक किसान डेयरी (dairy) खोलकर अच्छा खास पैसा कमा सकते हैं। खास बात यह है कि डेयरी खोलने के लिए सरकार की ओर से भारी सब्सिडी (heavy subsidy) भी दी जा रही है।

डेअरी फार्मिंग लोन और सबसिडी के लिए

यहां से करें ऑनलाइन आवेदन

डेयरी के लिए सब्सिडी हेतु योजना में कैसे करें आवेदन (How to apply for subsidy scheme for dairy)

यदि आप यूपी से हैं तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। यूपी सरकार ने राज्य के किसानों के लिए नंद बाबा दुग्ध मिशन के तहत नंदनी कृषक समृद्धि योजना लागू की है। इस योजना को शुरुआती रूप से अयोध्या, गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज, लखनऊ, कानपुर, झांसी, मेरठ, आगरा और बरेली जिलों के पशुपालक किसानों के लिए लागू किया गया है। ऐसे में यहां के किसान पशुपालक इस योजना में आवेदन कर सकेंगे। इसके लिए ऑनलाइन व ऑफ लाइन आवेदन किए जा सकेंगे। आवेदन की संख्या अधिक होने पर लाभार्थी का चयन मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता वाली समिति द्वारा ई-लॉटरी के जरिये किया जाएगा। नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के तहत आवेदन संबंधी अधिक जानकारी के लिए आप अपने जिले के पशुपालन विभाग से संपर्क कर सकते हैं।

20 000 का लोन ऑनलाइन चाहिए तो रखें इन बातों का ध्यान –

यहां क्लिक करके देखिए

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना की खास बातें

  • नंदिनी कृषक समृद्धि योजना (Nandini Krishak Samriddhi Yojana) का लाभ उठाने के लिए पशुपालक किसान के पास कम से कम 3 साल का गाय पालन का अनुभव होना जरूरी है।
  • गाय की डेयरी यूनिट स्थापित करने के लिए किसान के पास 0.5 एकड़ जमीन होनी चाहिए।
  • लाभार्थी के पास हरे चारे के लिए कम से कम 1.5 एकड़ जमीन होनी चाहिए। यह जमीन पशुपालक के खुद के नाम पर होनी चाहिए।
  • यदि जमीन लीज 7 साल तक लीज पर ले रखी है तो वह भी इस योजना के पात्र होंगे।
  • पशुपालक किसान को गायों की ईयर टैगिंग करना जरूरी होगा।
  • जो पशुपालक पहले से संचालित कामधेनु डेयरी योजना, मिनी कामधेनु व माइक्रो कामधेनु योजना लाभ उठा चुके हैं, वे इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं। 

पीएम आवास योजना के ₹250000 रूपये खाते में जमा होने लगे,

80 लाख घरकुल लिस्ट की में अपना नाम चेक करें |

Back to top button